मकर सक्रांति – पतंग, उत्साह और उड़ान

4 Comments

  1. Achha or bura dono lga achha apni sankiriti ki bdappn or bura dusro ki snskiriti ka tirskar esliye rngin dunia rngin culture me belive kre

    Jai hind

    1. मैं दूसरे की संस्कृति की बात ही नहीं किया, आप लेख को ध्यान से पढ़िए, मैं सिर्फ और सिर्फ अपनी संस्कृति की बात किया हूं

    2. Author

      मैं दूसरे की संस्कृति की बात ही नहीं किया, आप लेख को ध्यान से पढ़िए, मैं सिर्फ और सिर्फ अपनी संस्कृति की बात किया हूं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *